गर्मी की छुट्टी पर निबंध

गर्मी की छुट्टी पर निबंध – Summer Vacation Essay in Hindi – ग्रीष्म अवकाश पर निबंध

Posted by

गर्मी का मौसम आने वाला है जो की अप्रैल से बसंत ऋतू के मौसम के बाद से शुरू हो जाता है जिसमे की सभी स्कूल व कॉलेजो की गर्मी की छुट्टियां पड़ जाती है | इसीलिए छोटे बच्चो को गर्मी की छुट्टी के लिए निबंध व एस्से पढ़ाये जाते है व उनकी हर क्लास कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12 के बच्चो को हिंदी वे अन्य भाषाओ में एस्से उनकी परीक्षाओ में पढ़ाया जाता है | इसलिए हम आपको गर्मी की छुट्टी के ऊपर कुछ बेह्तरीन निबंध के बारे में बताते है जो की आपके लिए महत्वपूर्ण है जिसे आप अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते है |

Essay on How i Spent my Summer Vacation(in Hindi)

अगर आप गर्मी पर शायरी या गर्मी पर कविता भाषा Hindi, English, Marathi, Telugu, Tamil, Punjabi, Malayalam, Nepali, Urdu, Gujarati, Kannada के Language Font में ग्रीष्म ऋतु पर निबंध, शीतकालीन अवकाश पर निबंध, अनुचछेद गरमी की छुट्टी कैैसे बिताई, garmi ki chutti essay in hindi for class 2, meri grishmakalin yatra par ek lekh likhiye, ग्रीष्म ऋतु का वर्णन, छुट्टी पर निबंध, poem on summer season in hindi, ग्रीष्म ऋतु पर निबंध in sanskrit, गर्मी की छुट्टियाँ कैसे बिताई, के बारे में जानना चाहे तो यहां से जान सकते है :

ग्रीष्मकालीन छुट्टियां गर्मी की छुट्टियों के दौरान होती हैं, जिसके दौरान स्कूल बंद हो जाता है | ग्रीष्मकालीन अवकाश उच्च गर्मी गर्मी से भरा है लेकिन छात्रों के लिए खुशी का क्षण है। वे लंबे समय से व्यस्त कार्यक्रम से कुछ आराम करने के लिए एक साल से इस अवधि की प्रतीक्षा करते हैं। छात्र खुश हो जाते हैं कि उन्हें अगले एक-डेढ़ महीने तक अपने कक्षा में प्रवेश नहीं करना पड़ेगा। गर्मी की छुट्टियों के छात्र के जीवन में बहुत से नए अवसर आते हैं और उन्हें नई चीजें सीखने और उनके कौशल को बढ़ाने का मौका मिलता है। वे अपने घर शहर में जाते हैं, अपने पुराने और बचपन के दोस्तों से मिलते हैं, दादा-दादी से मिलते हैं, पहाड़ी स्टेशनों पर जाते हैं, विदेश में जाते हैं, या अपने इच्छुक क्षेत्रों में कौशल और ज्ञान बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण लेने के लिए प्रवेश लेते हैं।

आमतौर पर लड़के अपने दोस्तों के साथ निकटतम खेल का मैदान में क्रिकेट खेलना पसंद करते हैं जबकि लड़कियों को गर्मी की छुट्टी के दौरान फुटबॉल, बैडमिंटन, बास्केटबाल आदि खेलते हैं। माता-पिता पहले से ही गर्मी की छुट्टियों की योजना बनाते हैं ताकि पंद्रह दिन या एक महीने की लंबी अवधि के लिए अपने बच्चों के साथ गुणवत्ता का समय बिताया जा सके। वे पहले से ही अपनी यात्रा के अनुसार एयर टिकट, ट्रेन टिकट या बस टिकट बुक करते हैं। कुछ माता-पिता, सुंदर दिनों के लिए कुछ दिनों तक रहने के लिए बुक करते हैं लेकिन कुछ योजनाएं सुबह में चलने के लिए घर पर कुछ दिलचस्प बातें करती हैं, बच्चों के साथ बालकनी में एक सुबह की चाय, दिलचस्प नाश्ता, तरबूज़

गर्मी का एक दिन निबंध

हमारी गर्मियों की छुट्टियों में हम खूब उछलकूद करते थे। परीक्षा के दिनों से ही मैं छुट्टियों का बेसब्री से इंतजार करने लग जाता था। इंतजार के कई कारण थे। एक तो यह कि छुट्टियाँ आते ही मुझे पढ़ाई से छुटकारा मिल जाता था। खेलने-कूदने से कोई मना नहीं करता था और मुझे चित्र बनाने के मेरे सबसे पसंदीदा काम से भी कोई नहीं रोकता था। पर सबसे बड़ा कारण यह था कि छुट्टियों में ही मेरे सारे दोस्त मेरे साथ धमा-चौकड़ी करने को तैयार मिलते थे।

मेरे कई दोस्त थे। टीटू, नीटू, टिंकू, पाली, सचिन, बंटी, मनोज, गोपाल और संदीप। अभी इतने ही नाम याद आ रहे हैं। दोस्तों के ये नाम भी मुझे अच्छे लगते थे। टीटू, नीटू, टिंकू और पाली के नाम मेरे लिए आकर्षक थे। इनमें से पाली का नाम मुझे बड़ा अजीब भी लगता था, क्योंकि हमारी छत पर भी पाली होती थी और मुझे लगता था उसी से इसका नाम पाली रखा गया है। आज तक मुझे इसका कोई जवाब नहीं मिला। खैर जाने दो…।

हम आगे की बात करते हैं। छुट्टियों में हमारे कई प्लान हुआ करते थे। इनमें से एक प्रमुख प्लान था- रोज सुबह-सुबह उठकर दौड़ लगाना, कसरत करना और बॉडी बनाना। हम रोज सुबह जल्दी उठ जाते थे। उस वक्त हल्का नीला आकाश और कुछ तारे दिखाई देते थे। कुछ घरों के बाहर जलते बल्ब भी दिखाई देते थे।

How did i Spent My Summer Vacation Essay in Hindi

अगर आप सर्दी की छुट्टियां पर निबंध, गर्मी की छुट्टियों का सदुपयोग, गर्मी के मौसम पर निबंध, गर्मियों की छुट्टियां par patra, ग्रीष्म ऋतु का वर्णन, how i spent my winter vacation essay in hindi, chutti ka din essay in hindi, my summer vacation essay in hindi, how you spend your summer vacation essay in hindi, how we spend our summer vacation essay in hindi के बारे में जानना चाहे तो यहां से जान सकते है :

हमारे घर के पास ही एक तालाब था और हम उसके आसपास ही दौड़ लगाते थे। कई बार गली के कुछ कुत्ते भी हमारे साथ-साथ दौड़ लगाने आ जाते थे। तालाब के किनारे हम दौड़ लगाने के बाद कसरत करते और सोचते कि हमारी बॉडी बन रही है और अब कुछ ‍ही दिनों में हम पहलवान जैसे दिखने लगेंगे। उन दिनों लंबा होने की बात भी पता नहीं कहाँ से दिमाग में घुस आई थी तो पेड़ों पर भी खूब लटकते थे कि इससे लंबाई बढ़ जाएगी।

उन दिनों मैं अपने मोहल्ले का चित्रकार था। मिक्की माउस, डोनाल्ड डक, टॉम एंड जैसी और ऐसी ही किताबों से देखकर कार्टून बनाता था। धीरे-धीरे मेरे दोस्तों को भी चित्र बनाने में मजा आने लगा था। हम सब इकट्‍ठा चित्र बनाते थे। मैं, पाली, टीटू और संदीप अच्छे चित्र बना लेते थे। जब हमारे चित्र बन जाते तो हम मेरे घर के आगे वाले कमरे में चित्रों की प्रदर्शनी लगाते थे। चित्रों को दीवारों पर टेप से चिपकाते, कुर्सियों और पलंग पर भी चित्र बिछाकर रख देते।

प्रदर्शनी देखने के लिए हम कमरे में घुसने की 25 पैसे फीस लेते थे। प्रदर्शनी लगते ही कमरे का दरवाजा लगा देते थे। अंदर की लाइट भी बंद कर देते थे। जब भी कोई फीस देकर कमरे के अंदर आता तो फिर उसे लाइट जलाकर चित्र दिखाते। इंट्री फीस से जो पैसे मिले थे वे कुल्फी खाने में खर्च हो जाते थे। हमारी मेहनत की यह बड़ी कमाई थी जिससे हम छोटी-सी कुल्फी खाते थे।

धीरे-धीरे सबने चित्र बनाना छोड़ दिया। मेरे साथ अच्‍छे मित्र बनाने वाले दोस्त अब बड़े हो गए थे। अब वे सभी पढ़ाई में ज्यादा ध्यान देने लगे थे। बस मैं ही बच्चा रह गया जो चित्र बनाता था और आज भी बना रहा हूँ।

Summer Vacation Essay in Hindi

How i Spent My Summer Vacation Essay in Hindi

अगर आप my summer vacation essay 150 words in hindi, how to spend summer vacation essay in hindi, how did you spend your summer vacation essay in hindi, essay on summer vacation for class 5 in hindi, essay on summer vacation in hindi language for class 7, essay on summer vacation for class 8 in hindi, importance of summer vacation essay in hindi के बारे में जानना चाहे तो यहां से जान सकते है :

गर्मी का मौसम मार्च, अप्रैल, मई और जून के महीनों में रहता है। यह साल का सबसे गर्म मौसम होता है, क्योंकि तापमान अपने उच्च शिखर पर पहुँचता है। इस ऋतु के दौरान, दिन लम्बे और गर्म होते हैं, वहीं रातें छोटी है। दिन के बीच में, सूर्य की किरणें बहुत गर्म होती है। पूरे दिनभर गर्म हवाएं चलती रहती है, जो चारों तरफ के वातावरण को रूखा और शुष्क बनाती है। ग्रीष्म ऋतु की ऊँचाई पर, छोटी धाराएं, कुएं, और तालाबें सूख जाती हैं। ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोग पानी की कमी, उच्च तापमान, सूखे आदि बहुत सी परेशानियों से बिजली और अन्य आरामदायक संसाधनों की कमी के कारण जूझते हैं।

उच्च तपमान के बावजूद, गरमी के मौसम में लोग; आम, खीरा, ककड़ी, लीची, कटहल, खरबूजा, तरबूजा जैसे आदि फलों और सब्जियों को खाने का आनंद लेते हैं। शहरी क्षेत्रों में लोग इस मौसम में गरमी से निजात पाने के लिए बहुत सी गतिविधियों में शामिल होते हैं; जैसे- तैराकी, पहाड़ी क्षेत्र पर घूमने के लिए जाना आदि।

Essay on Summer Vacation in Hindi for Class 7, Class 8, Class 6, Class 9, Class 5

ग्रीष्मकालीन अवकाश बच्चों के लिए गर्मियों में मज़ा आता है जो स्कूल में आखिरी घंटी बजने से शुरू होता है। ग्रीष्मकालीन अवकाश बच्चों के लिए खुशी का क्षण बन जाता है क्योंकि उन्हें स्कूल और स्कूल के काम के दैनिक व्यस्त जीवन से लंबा समय लगता है। होमवर्क से दूर रहने और घर के शहर, पहाड़ी स्टेशनों और अन्य ठंडे स्थानों पर जाने से ही गर्मियों में गर्मी को आसानी से और खुशी से हराकर मनोरंजन का समय आ गया है। हालांकि, छात्रों को घर से पूरा करने के लिए स्कूल से बहुत सारे घर के काम के काम मिलते हैं और खोलने के बाद स्कूल में जमा करें। घर पर काम करने के बाद भी, वे आराम से महसूस करते हैं और उच्च गर्मी की गर्मी के कारण स्कूल से निकलते हुए मनोरंजन करते हैं

ग्रीष्मकालीन समय बच्चों के लिए गुणवत्ता का समय है। यह सरल आनंद और उत्साह का समय है बच्चों को वह कुछ भी कर सकते हैं जो वे रुचि रखते हैं। वे अपने माता-पिता, अच्छे दोस्त, पड़ोसियों आदि के साथ छुट्टी के माध्यम से आनंद ले सकते हैं।

ग्रीष्मकालीन अवकाश पर निबंध

ग्रीष्मकालीन छुट्टियां आमतौर पर छात्र के जीवन की खुशी का समय होती हैं। यह उनके लिए काफी मायने रखता है क्योंकि उन्हें कुछ आराम मिलता है और उनके दैनिक स्कूल कार्यक्रम से आराम मिलता है। अब-एक-दिन, गर्मी की छुट्टियों की अवधि हर गर्मी के मौसम में 45 दिन होती है। यह मई के महीने के तीसरे सप्ताह से शुरू होता है और हर महीने जून महीने के अंतिम सप्ताह के अंतिम दिन समाप्त होता है। इसका उद्देश्य उच्च गर्मी की गर्मी से छूट सहित कई गुणा है, अंतिम परीक्षाओं के बाद छात्रों को एक लंबा ब्रेक दें आदि। छात्रों को थका हुआ लगता है और वार्षिक परीक्षाओं के बाद अध्ययन में रूचि नहीं लेती। इसलिए, उनके स्वास्थ्य और व्यवहार्यता को फिर से भरने के लिए अध्ययन के लंबे साल के बाद उन्हें कुछ आराम की आवश्यकता है

गर्मी की छुट्टी का एक और उद्देश्य छात्रों को कुछ गर्मियों के मौसम की असहनीय गर्मी से आराम देने के लिए है। उच्च गर्मी की गर्मी के कारण उन्हें काफी हद तक चोट लग सकती है, इसलिए ग्रीष्मकालीन अवकाश उन्हें अध्ययन और गर्मियों में अच्छा ब्रेक देने का सबसे अच्छा विकल्प है इसका भी उद्देश्य कमजोर विषयों में पुनर्प्राप्त करने में छात्रों की सहायता करना है। गर्मी की छुट्टी के दौरान, छात्रों को नए स्थानों पर जाने, उनके सामान्य ज्ञान को बढ़ाने, विद्यालय के परियोजना कार्य के लिए समय प्राप्त करने का अवसर मिलता है।

ग्रीष्म अवकाश पर निबंध

Essay on How i Spent My Winter Vacation in Hindi Language

अगर आप summer vacation essay writing in hindi, how i spent my summer vacation essay in hindi class 2 , for class 1,  for class 3,  for class 4,  for class 5,  for class 6,  for class 7,  for class 8,  for class 9,  for class 10,  for class 11,  for class 12 essay on summer vacation for class 7 in hindi, hindi essay on how you spend your summer vacation, summer vacation essays in hindi, essay on summer vacation in hindi on wikipedia, summer vacation experience essay in hindi के बारे में जानना चाहे तो यहां से जान सकते है :

भारत में मुख्य रुप से चार मौसम होते हैं: गर्मी का मौसम उसमें से एक है। यह बहुत ही गर्म मौसम होता है, परन्तु लोगों के द्वारा अधिकतर पसंद किया जाता है। यह चार महीनों के लिए होता है (मार्च, अप्रैल, मई और जून), हालांकि, मई और जून सबसे अधिक गर्मी वाले महीने होते हैं। गरमी का मौसम पृथ्वी के सूर्य के चारों ओर घूमने के कारण होता है। इस प्रक्रिया के दौरान, जब पृथ्वी का भाग सूर्य के करीब आता है, तो वह भाग (सूर्य की सीधी किरणों के पड़ने के कारण) गर्म हो जाता है, जो गर्मियों का मौसम लाता है। इस मौसम में, दिन लम्बे होते हैं और रातें छोटी हो जाती है।

यह होली के त्योहार के बाद पड़ता है और बरसात के मौसम की शुरुआत के साथ खत्म होता है। गर्मी के मौसम के दौरान वाष्पीकृत पानी वाष्प के रुप में वातावरण में संग्रहित हो जाता है (जो बादलों का निर्माण करता है) और बरसात के मौसम में बारिश के रुप में गिरता है। गर्मी के मौसम के लाभों के साथ ही कुछ हानियाँ भी है। एक तरफ, जहाँ यह मौसम बच्चों के मनोरंजन और आराम के लिए होता है; वहीं दूसरी ओर, यह लोगों को बहुत सी मुश्किलों और जोखिमों में डालता है; जैसे- उच्च ऊष्मा, तुफान, शरीर में पानी की कमी, कमजोरी, बेचैनी आदि। गर्मियों में मध्याह्न का समय भयंकर गर्मी से भरा हुआ होता है, जिसके कारण बहुत से कमजोर लोग लू लगने के कारण बीमार हो जाते हैं या मर जाते हैं।

भारत में बहुत से स्थानों पर, लोग पानी की कमी और सूखे की स्थितियों से पीड़ित होते हैं, क्योंकि कुए, तालाब और नदियाँ सूख जाती है। पेड़ों का पत्तियाँ पानी की कमी के कारण सूख कर गिर जाती है। चारों तरफ धूल से युक्त गर्म हवाएं चलती है, जो लोगों के स्वास्थ्य के लिए जोखिमपूर्ण होती है। हमें गर्मी के मौसम में गर्मी को कम करने के लिए अधिक फल खाने चाहिए, ठंडी चीजों को पीना चाहिए।

Summer Vacation Essay in Hindi in 300-400 Words

ग्रीष्म ऋतु साल की चार ऋतुओं में से एक ऋतु है। साल का सबसे गर्म मौसम होने के बावजूद बच्चे इसे सबसे अधिक पसंद करते हैं, क्योंकि उन्हें बहुत तरीकों से मस्ती करने के लिए गर्मी की छुट्टियाँ मिलती है। ग्रीष्म ऋतु पृथ्वी के घूर्ण अक्ष के सूर्य की ओर होने के कारण होती है। गर्मी का मौसम बहुत ही शुष्क और गर्म (भूमध्य सागरीय क्षेत्रों में) और बरसात का मौसम (पूर्वी एशिया में मानसून के कारण) लाता है। कुछ स्थानों पर, गर्मी के दौरान वसंत ऋतु में तुफान और बवंडर (जो विशेषरुप से सुबह और शाम के समय तेज और गर्म हवाओं के कारण उत्पन्न होता है) बहुत ही आम बात है।

शहरी क्षेत्रों में रहने वाले बहुत से लोग बहुत अधिक गर्मी को नहीं सहन कर पाते हैं, जिसके कारण वे गर्मी की छुट्टियों में अपने बच्चों के साथ समुद्र तटीय रिसोर्ट्स, पहाड़ी क्षेत्रों, तटों, ठंडे स्थानों पर कैम्पों या पिकनिक के लिए जाते हैं। वे तैराकी, गर्मी के मौसमी फलों को खाने और ठंडे पेय पदार्थों को पीने आनंद लेते हैं। कुछ लोगों के लिए, गर्मियों का मौसम अच्छा होता है, क्योंकि वे उन दिनों में ठंडे स्थानों पर मनोरंजन और मस्ती करते हैं; हालांकि, यह मौसम गरमी से राहत पाने वाले संसाधनों की कमी के कारण ,ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए असहनीय होता है। कुछ स्थानों पर, लोग अपने क्षेत्रों में पानी की बहुत अधिक किल्लत या कमी से पीड़ित होते हैं और उन्हें बहुत अधिक दूरी तक पानी को लेकर जाना पड़ता है।

यह पूरा मौसम बच्चों के लिए बहुत अच्छा होता है, क्योंकि उन्हें गर्मियों की छुट्टियों के रुप में अपने घर में परिवार के साथ मस्ती के लिए, किसी ठंड़े स्थान पर घूमने के लिए, तैराकी का आनंद लेने के लिए, मौसमी फलों के साथ आइस-क्रीम का आनंद लेने के लिए एक महीने 15 दिन (डेढ़ महीने) का समय मिलता है। आमतौर पर, लोग सूरज निकलने से पहले टहलने के लिए जाते हैं, क्योंकि यह उन्हें ठंडक, शान्ति और ताजी हवा की खुशी वाली भावना देती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *