Shivaji Maharaj Quotes in Hindi

Shivaji Maharaj Quotes in Hindi & Marathi – छत्रपति शिवाजी महाराज के अनमोल विचार, वचन, उद्धरण, प्रेरक कथन

Posted by

शिवाजी महाराज कोट्स : वीर शिवाजी महाराज का जन्म १९ फरवरी, १६३० शिवनेरी दुर्ग में हुआ था यह सम्भाजी के उत्तराधिकारी थे इनकी मृत्यु ३ अप्रैल, १६८० रायगढ़ में हुई थी इनके पिता का नाम शाहजी भोंसले तथा माता का नाम जीजाबाई था |पुरे भारतवर्ष में 19 फरवरी के दिन हर साल इनकी जयंतीबड़े ही धूमधाम के साथ मनाई जाती है खासकर महाराष्ट्र में यह दिन बड़े जोरो शोरो से मनाया जाता है | शिवाजी ने कई युद्ध लड़े और अपने एक प्रतापी राजा होने के पुख्ता सबूत दिए | इसीलिए हम आपको महान योद्धा वीर शिवाजी के कुछ अनमोल विचार, वचन, कथन, उद्धरण व कोट्स के बारे में बताते है जो की आपके लिए काफी महत्वपूर्ण है जिन्हे पढ़ कर आप इनके बारे में काफी कुछ जानकारी पा सकते है |

Shivaji Maharaj Vichar in Marathi – Chhatrapati Shivaji Maharaj Quotes In Marathi

अगर आप shivaji maharaj slogans in marathi, shivaji maharaj quote in marathi text in sanskrit marathi pictures for whatsapp, shivaji maharaj jayanti quotes in english, shivaji maharaj status quotes in marathi, छत्रपति शिवाजी यांचे मराटी सूवीचार, छत्रपति शिवाजी यांचे सूवीचार, shivaji maharaj new quotes in marathi, in telugu, and images, in marathi font, SMS, Pics, Wallpaper, Photos, HD, Dpwnload, SMS के माध्यम से जान सकते है :

एक पुरुषार्थी भी, एक विद्वान के सामने झुकता है। क्योकी पुरुर्षाथ भी विद्या से ही आती है।

अपने आत्मबल को जगाने वाला, खुद को पहचानने वाला, और मानव जाति के कल्याण की सोच रखने वाला, पूरे विश्व पर राज्य कर सकता है।

प्रतिशोध मनुष्य को जलाती रहती है, संयम ही प्रतिशोध को काबू करने का उपाय होता है।

अंगूर को जब तक नहीं पेरो वो मीठी मदिरा नही बनती, वैसे ही मनुष्य जब तक कष्ट मे पिसता नही, तब तक उसके अन्दर की सर्वौत्तम प्रतिभा बाहर नही आती।

कोई भी कार्य करने से पहले उसका परिणाम सोच लेना हितकर होता है; क्योकी हमारी आने वाली पीढी उसी का अनुसरण करती है।

शिवाजी महाराज विचार मराठी – शिवाजी महाराज यांचे विचार – शिवाजी महाराज सुविचार

अगर आप shivaji maharaj quote in english Tamil Telugu Gujarati इत्यादि भाषा लैंग्वेज language में जानना चाहते है तो इसके लिए आप shayari on shivaji maharaj in hindi, history of shivaji maharaj in hindi language, poem on shivaji maharaj in hindi, kavita on shivaji maharaj, veer shivaji dialogues, shivaji maharaj status in hindi marathi, शिवाजी महाराज हिंदी शायरी, शिवाजी महाराज शेर शायरी, शिवाजी पर शायरी, शिवाजी महाराज शायरी मराठी तथा शिवाजी महाराज मराठी शेर शायरी के बारे में जानना चाहे तो यहाँ से जान सकते है :

सर्वप्रथम राष्ट्र, फिर गुरु, फिर माता-पिता, फिर परमेश्वर।अतः पहले खुद को नही राष्ट्र को देखना चाहिए।

जब लक्ष्य जीत की हो, तो हासिल करने के लिए कितना भी परिश्रम, कोई भी मूल्य , क्यो न हो उसे चुकाना ही पङता है।

जरुरी नही कि विपत्ति का सामना, दुश्मन के सम्मुख से ही करने मे, वीरता हो। वीरता तो विजय मे है।

जो व्यक्ति स्वराज्य और परिवार के बीच स्वराज्य को चुनता है वही एक सच्चा नागरिक होता हैं।

छत्रपति शिवाजी महाराज के अनमोल विचार

Shivaji Maharaj Famous Quotes

हर व्यक्ति को विद्या ग्रहण करनी चाहिए। क्योंकि लड़ाई में जो काम शक्ति नहीं करती वो काम युक्ति से होता हैं और युक्ति विधा से आती हैं।

किसी भी लक्ष्य को पाने के लिए नियोजन महत्वपूर्ण होता हैं। केवल नियोजन से ही आप लक्ष्य पा सकते हैं।

जो मनुष्य बुरे समय मे भी पूरी शिद्दत से, अपने कार्यो मे लगा रहता है। उसके लिए समय खुद बदल जाता है।

जो व्यक्ति सिर्फ देश और सत्य के सामने झुकता है उसका आदर सम्पूर्ण संसार करता हैं।

आत्मबल, सामर्थ्य देता है, और सामर्थ्य, विद्या प्रदान करती है। विद्या, स्थिरता प्रदान करती है, और स्थिरता, विजय की तरफ ले जाती है।

Marathi Quotes About Shivaji Maharaj

अगर मनुष्य के पास आत्मबल है, तो वो समस्त संसार पर अपने हौसले से विजय पताका लहरा सकता है।

इस जीवन मे सिर्फ अच्छे दिन की आशा नही रखनी चाहिए, क्योकी दिन और रात की तरह अच्छे दिनो को भी बदलना पङता है।

एक स्त्री के सभी अधिकारों में सबसे महान अधिकार, उसका माँ होना है।

शत्रु चाहे कितना भी बड़ा या शक्तिशाली हो मात्र योग्य नियोजन से और आत्मबल उत्साह से भी उसे हरा सकते हैं।

Shivaji Maharaj Jayanti Quotes

जरुरी नहीं की दुश्मन का सामना सामने से ही किया जाए आप दुश्मन से बिना लड़े भी जीत सकते हैं।

एक सफल मनुष्य अपने कर्तव्य की पराकाष्ठा के लिए, समुचित मानव जाति की चुनौती स्वीकार कर लेता है।

स्वतंत्रता एक वरदान है, जिसे पाने का अधिकारी हर कोई है।

हम जिस जगह रहते है उस जगह का और पूर्वजों का इतिहास हमें मालूम होना चाहिए।

उत्साह मनुष्य की ताकत, संयम और अडिगता होती है। सब का कल्याण मनुष्य का लक्ष्य होना चाहिए। तो कीर्ति उसका फल होगा।

Shivaji Maharaj Vichar in Marathi

Shivaji Maharaj Inspirational Quotes

एक छोटा कदम छोटे लक्ष्य पर, बाद मे विशाल लक्ष्य भी हासिल करा देता है।

जब एक पेड़ इतना दयालु और सहिष्णु हो सकता है की वो पेड़ को पत्थर मारने वाले इंसान को भी मीठे आम दें तो क्या एक राजा होने के नाते मुझे उस पेड़ से ज्यादा दयालु और सहिष्णु नहीं होना चाहिए।

अपना सर कभी ना झुकाएं, इसे सदैव ऊंचा रखे।

यद्धपि सबके हाथ में एक तलवार होती है लेकिन वो ही साम्राज्य स्थापित करता है जिसमे इच्छाशक्ति होती हैं।

किस भी चीज़ को पाने का हौसला बुलंद हो तो पर्वत को भी मिट्टी में बदला जा सकता हैं।

Shivaji Maharaj Rajyabhishek Quotes in marathi

इस दुनिया में हर व्यक्ति को स्वतंत्र रहने का अधिकार है। और उस अधिकार को पान के लिए वो लड़ भी सकता हैं।

शत्रु को नाही कमजोर समझना चाहिए और नाही बलवान समझना चाहिए। बल्कि वो जो आपके साथ कर रहा है सिर्फ उस पर ध्यान देना चाहिए।

जब आप अपने लक्ष्य को तन मन से चाहोगे तो माँ भवानी की कृपा से जीत आपकी ही होगी।

अपना लक्ष्य पाने के लिए हर उस व्यक्ति को वचन दो जिनकी आपको जरुरत है। परंतु सिर्फ संत, माहत्मा लोगों को ही दिए हुए वचन पुरे करो, चोरों को दिए हुए नहीं।

अगर आप shivaji maharaj vichar marathi, छत्रपती शिवाजी महाराज प्रेरणादायी विचार, छत्रपति शिवाजी महाराज जयंती की शुभकामनाएँ, शिवाजी महाराज फोटो बधाई, www.com shivaji maharaj vichar, शिवाजी जयंती शुभकामनाएँ quotes, shivaji janm jayanti, shivaji rajyabhishek qouts, shivaji maharaj hindi shayari तथा shivaji maharajanche vichar के बारे में जानने के लिए आप यहाँ से जान सकते है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *