Quotes

Confucius Quotes in Hindi – महान दार्शनिक कन्फ्यूशियस के अनमोल कथन, वचन व विचार

Confucius Quotes in Hindi
Written by admin

कन्फ्यूशियस एक महान, शिक्षक, राजनीतिज्ञ व दार्शनिक था जिनका जन्म 28 September 551 BC में Qufu, Zhou Dynasty में हुआ था व इनकी मृत्यु 71 साल की उम्र में 479 BC में हुई थी | शानदोंग प्रांत में कन्फ्यूशियस की समाधि भी बनी हुई है | इसीलिए हम आपको कन्फ्यूशियस के द्वारा बताये गए कुछ बेहतरीन कोट्स के बारे में बताते है जिन कोट्स को पढ़ कर आप इनके बारे में भी काफी कुछ जान सकते है |

कन्फ्यूशियस के अनमोल विचार

ऐसे व्यवसाय या काम का चयन करे जिसे करने में आपको मजा आता हो, और फिर आपको अपने जीवन में एक भी दिन काम नहीं करना पड़ेगा

व्यक्ति जितना अधिक अच्छे विचारों पर मनन करेगा, उसकी दुनिया उतनी ही बेहतर एवं व्यापक होगी

वो जो सदगुणों के माध्यम से सरकार चलता है, की तुलना उत्तर ध्रुवीय स्टार की जा सकती है, जो अपनी जगह रहता है और सभी स्टार्स उसकी ओर मुड़ जाते हैं

वह व्यक्ति जो सीखता है पर सोंचता नहीं वह सीखकर भी खो देगा, वही वह व्यक्ति जो सिर्फ सोंचता है पर सीखता नहीं वह बहुत बड़े खतरे में पड़ने वाला होता है

सभी परिस्थितियों में पांच चीजों का अभ्यास सही सद्गुण का गठन करता है; और ये पांच चीजें गुरुत्व, आत्मा की उदारता, नेक नियति, गंभीरता एवं दया हैं

Inspirational Words of Confucius in Hindi

म्रत्यु और जीवन के अपने नियोजन निर्धारित हैं, सम्पति और सम्मान भगवान् पर निर्भर करते हैं

मानवजाति जानवरों से बस थोड़ी ही अलग हैं। लेकिन बहुत से लोग उस ‘थोड़े’ को भी अपने अंदर से निकाल फेकते हैं

जब यह साफ़ हो कि लक्ष्यों को प्राप्त नहीं किया जा सकता है, तो लक्ष्यों में फेरबदल न करें, बल्कि अपने प्रयासों में बदलाव करें

जीवन की उम्मीदें कर्मठता पर निर्भर है; एक मैकेनिक को अपने काम में खरा उतरने के लिए, पहले अपने उपकरणों को तेज करना जरुरी है

जब तुम्हारे खुद के दरवाजे की सीढियाँ गन्दी हों, तो पडोसी की छत पे पड़ी गन्दगी का उलाहना मत दीजिये

महान दार्शनिक कन्फ्यूशियस के अनमोल कथन

कन्फ्यूशियस के महत्वपूर्ण अनमोल वचन

मानव जाति जानवरों से बस थोड़ी सी अलग है, लेकिन बहुत से लोग उस “थोड़े” से को भी अपने अन्दर से निकाल फेंकते हैं

मुझे विश्वास है, बुढ़ापा एक सुखद और अच्छी बात है, यह सच है कि धीरे- धीरे चीजें आपके हाँथ से निकल जाती हैं, लेकिन फिर भी दर्शक के रूप में आपको एक आराम दायक अग्रिम स्थान दिया जाता है

रत्न बिना रगड़े कभी नहीं चमकता है, वैसे ही आदमी का व्यक्तित्व बिना संघर्ष के नहीं निखरता

अगर आप एक साल की योजना बना रहे है, तो एक बीज बोईये, योजना अगर दस साल की है तो पेड़ लगाईये और अगर योजना सौ साल की है तो शिक्षक बन जाइए

जब हम अपने से विपरीत स्वभाव वाले व्यक्ति को देखे, तब हमें अपने अंदर झांककर उसकी धारणा पर विचार करना चाहिए

कन्फ्यूशियस उद्धरण हिंदी में

मैं दो अन्य पुरुषों के साथ चल रहा हूँ, तो उनमें से प्रत्येक मेरे शिक्षक के रूप में काम करेगा. मैं एक से अच्छी बातों का चयन करूंगा और उनका अनुकरण करूंगा, और अन्य की बुरी बातों का चयन करूंगा और अपने आप में उन्हें सही करूंगा

वो जो सीखता है लेकिन विचार नहीं करता है, खो देता है! वो जो सोचता है लेकिन सीखता नहीं है, महान खतरे में है

अच्छी तरह से शासित देश में, गरीबी के लिए शर्मिंदा होना पड़ता है. बुरी तरह से शासित देश में, संपत्ति के लिए शर्मिंदा होना पड़ता है

जब यह स्पष्ट हो कि लक्ष्य तक पहुंचा नहीं जा सकता, तब लक्ष्य न बदले। तब लक्ष्य प्राप्ति के लिए अपनाए गए तरीकों में बदलाव लाए

जब किसी प्रशंसनीय व्यक्ति को देखें तब आप उससे भी अच्छा बनने की कोशिश करें, लेकिन जब आप किसी अप्रशंसनीय व्यक्ति को देखें, तब स्वयं के अन्दर झांककर आत्मनिरीक्षण करें

कन्फ्यूशियस के अनमोल विचार

Confucius Thought in Hindi

जीतने की इच्छाशक्ति, सफल होने की इच्छा, अपनी पूरी क्षमता तक पहुँचने की प्रेरणा … ये व्यक्तिगत उत्कृष्टता के द्वार खोलने की कुंजियाँ हैं

विश्व को व्यवस्थित रखने के लिए, पहले राष्ट्र को व्यवस्थित रखना होगा, राष्ट्र को व्यवस्थित करने के लिए परिवार को व्यवस्थित करना होगा। परिवार को व्यवस्थित रखने के लिए, व्यक्तिगत जीवन का संवर्धन करना होगा और व्यक्तिगत जीवन के संवर्धन के लिए हमें सबसे पहले अपना दिल साफ रखना होगा

यह मानकर ज्ञान प्राप्त करो कि आपको कभी इस पर महारत हासिल नहीं होगी; इसे यह मानकर पकड़ो कि आपको इसे खो जाने का डर हो

हम तीन तरीकों से बुद्धि अर्जित कर सकते हैं: प्रथम चिंतन से जो की उत्तम है, द्वतीय दूसरों से सीखकर जो की सबसे आसान है, और तृतीय अनुभव से जो की सबसे कठिन है

जीतने की संकल्प शक्ति, सफल होने की इच्छा और अपने अंदर मौजूद क्षमताओं के उच्चतम् स्तर तक पहुंचने की तीव्र अभिलाषा, ये ऐसी चाबियां हैं जो व्यक्तिगत उत्कृष्टता के बंद दरवाजे खोल देती है

चायनीज फिलॉसफर कन्फ्यूशियस के सर्वश्रेष्ठ विचार

जब हम अपने से विपरीत स्वाभाव वाले व्यक्तिओ को देखें, तब हमें अपने अन्दर झांककर उसकी धारणा पर विचार करना चाहिए

जब आप अपने दिल में झांकते है, और कोई गलती नहीं पाते तब आपको चिंता करने और डरने की कोई जरुरत नहीं

श्रेष्ठ व्यक्ति अपनी क्षमता की सीमाओं से व्यथित होता है, वह इस तथ्य से परेशान नहीं होता कि लोगों को उसकी क्षमता की पहचान नहीं है

एक श्रेष्ठ व्यक्ति के दोष सूर्य और चंद्रमा की तरह होते हैं. वे उनके दोष है, और हर कोई उन्हें देखता है; वे बदल सकते हैं और हर कोई उनसे प्रेरणा लेता है

नफरत करना आसान है और प्रेम करना मुश्किल है. चीजें इसी तरह काम करती है. अच्छी चीजों को पाना मुश्किल होता है और बुरी चीजें आसानी से मिल जाती है

About the author

admin

Leave a Comment