Mahatma Gandhi Quotes in Hindi

Mahatma Gandhi Quotes in Hindi – महात्मा गाँधी जी के अनमोल विचार

Posted by

महात्मा गाँधी जी जिन्हे भारत का राष्ट्रपिता के नाम से भी जाना जाता है इनका जन्म 2 अक्टूबर 1869 में ब्रिटिश भारत के मुंबई के पोरबंदर शहर में हुआ था तथा इनकी मृत्यु 78 साल की उम्र में 30 जनवरी 1948 में नई दिल्ली में हुई थी | उन्हें भारत सरकार द्वारा भारत रत्न से सम्मानित किया गया था उन्होंने भारत की आज़ादी दिलाने के लिए कई तरह के कार्य किये थे इसीलिए हम आपको क्रन्तिकारी विचार बताते है जिन विचारो को पढ़के आप इनके बारे में काफी कुछ जान सकते है |

महात्मा गांधी के विचार हिंदी में

अगर आप गांधी जी के बारे मे, mahatma gandhi quotes in hindi images, mahatma gandhi quotes in hindi and english के बारे में जानने के लिए आप यहाँ से जान सकते है :

चलिए सुबह का पहला काम ये करें कि इस दिन के लिए संकल्प करें कि- मैं दुनिया में किसी से डरूंगा नहीं. -मैं केवल भगवान से डरूं. -मैं किसी के प्रति बुरा भाव ना रखूं. -मैं किसी के अन्याय के के समक्ष झुकूं नहीं. -मैं असत्य को सत्य से जीतूँ. और असत्य का विरोध करते हुए, मैं सभी कष्टों को सह सकूँ

मौन तब कायरता बन जाता है जब परिस्थिति की मांग पूरा सच बता देने और उसी अनुसार कार्य करने की होती है

अगर मेरे अन्दर कोई सेंस ऑफ़ ह्यूमर नहीं होता तो मैं बहुत पहले आत्महत्या कर चुका होता

शक्ति शारीरिक क्षमता से नहीं आती है। ये अदम्य इच्छा शक्ति से पैदा होती है

हम जो दुनिया के जंगलों के साथ कर रहे हैं वो कुछ और नहीं बस उस चीज का प्रतिबिम्ब है जो हम अपने साथ और एक दूसरे के साथ कर रहे हैं

Famous Slogans By Mahatma Gandhi

आप तब तक यह नहीं समझ पाते की आपके लिए कौन महत्त्वपूर्ण है जब तक आप उन्हें वास्तव में खो नहीं देते

एक कायर प्रेम प्रदर्शित करने में असमर्थ है, ये तो बहादुरों का विशेषाधिकार है

प्राथना किसी बूढ़ी औरत का बेकार का मनोरंजन नहीं है. सही से समझा और लागू किया जाए, तो ये कर्म का सबसे सशक्त साधन है

सात घनघोर पाप: काम के बिना धन; अंतरात्मा के बिना सुख; मानवता के बिना विज्ञान; चरित्र के बिना ज्ञान; सिद्धांत के बिना राजनीति; नैतिकता के बिना व्यापार; त्याग के बिना पूजा

एक देश की महानता और नैतिक प्रगति को इस बात से आँका जा सकता है कि वहां जानवरों से कैसे व्यवहार किया जाता है

महात्मा गांधी के विचार हिंदी में

महात्मा गांधी के शैक्षिक विचार

प्रार्थना माँगना नहीं है.यह आत्मा की लालसा है. यह हर रोज अपनी कमजोरियों की स्वीकारोक्ति है. प्रार्थना में बिना वचनों के मन लगाना, वचन होते हुए मन ना लगाने से बेहतर है

आप मुझे जंजीरों में जकड़ सकते हैं, यातना दे सकते हैं, यहाँ तक की आप इस शरीर को नष्ट कर सकते हैं, लेकिन आप कभी मेरे विचारों को कैद नहीं कर सकते

दुनिया में ऐसे लोग हैं जो इतने भूखे हैं कि भगवान उन्हें किसी और रूप में नहीं दिख सकता सिवाय रोटी के रूप में

दयालुता का छोटा सा कार्य प्रार्थना में झुके हज़ारों सरों से अधिक शक्तिशाली है

अपने ज्ञान पर ज़रुरत से अधिक यकीन करना मूर्खता है. यह याद दिलाना ठीक होगा कि सबसे मजबूत कमजोर हो सकता है और सबसे बुद्धिमान गलती कर सकता है

Thoughts of Mahatma Gandhi in Hindi and English

अगर हम दुनिया में वास्तविक शांति चाहते हैं, तो हमें इसकी शुरुआत बच्चों से करनी होगी

ऐसे बहुत से कारण हैं जिनके लिए मैं मर जाऊँगा. लेकिन ऐसा एक भी कारण नहीं है जिसके लिए मैं मारूंगा

जब मैं निराश होता हूँ, मैं याद कर लेता हूँ कि समस्त इतिहास के दौरान सत्य और प्रेम के मार्ग की ही हमेशा विजय होती है. कितने ही तानाशाह और हत्यारे हुए हैं, और कुछ समय के लिए वो अजेय लग सकते हैं, लेकिन अंत में उनका पतन होता है. इसके बारे में सोचो- हमेशा

एक आदमी को सुधारने की तुलना में एक लड़के को बनाना आसान है

आदमी अक्सर वो बन जाता है जो वो होने में यकीन करता है. अगर मैं खुद से यह कहता रहूँ कि मैं फ़लां चीज नहीं कर सकता, तो यह संभव है कि मैं शायद सचमुच वो करने में असमर्थ हो जाऊं. इसके विपरीत, अगर मैं यह यकीन करूँ कि मैं ये कर सकता हूँ, तो मैं निश्चित रूप से उसे करने की क्षमता पा लूँगा, भले ही शुरू में मेरे पास वो क्षमता ना रही हो.

Mahatma Gandhi ke Siddhant in Hindi

एकमात्र तानशाह जिसे मैं स्वीकार करता हूँ वो है मेरे अन्दर की ‘स्थिर छोटी सी आवाज़

मृत, अनाथ, और बेघर को इससे क्या फर्क पड़ता है कि यह तबाही सर्वाधिकार या फिर स्वतंत्रता या लोकतंत्र के पवित्र नाम पर लायी जाती है

हमेशा अपने विचारों, शब्दों और कर्म के पूर्ण सामंजस्य का लक्ष्य रखें. हमेशा अपने विचारों को शुद्ध करने का लक्ष्य रखें और सब कुछ ठीक हो जायेगा

किसी मित्र के साथ मित्रतापूर्ण होना आसान है. लेकिन जो आपको शत्रु समझता है उसके साथ मित्रतापूर्ण होना सच्चे धर्म का सार है

पूर्ण धारणा के साथ बोला गया “नहीं” सिर्फ दूसरों को खुश करने या समस्या से छुटकारा पाने के लिए बोले गए “हाँ” से बेहतर है

महात्मा गाँधी जी के अनमोल विचार

महात्मा गांधी के राजनीतिक विचार

एक सभ्य घर के बराबर कोई विद्यालय नहीं है और एक भले अभिभावक जैसा कोई शिक्षक नहीं है

मैं हिंसा का विरोध करता हूँ क्योंकि जब ऐसा लगता है कि वो अच्छा कर रही है तब वो अच्छाई अस्थायी होती है; और वो जो बुराई करती है वो स्थायी होती है

हालांकि हम उसे हज़ारों नामों से जानते हैं, वो हम सब के लिए एक समान है

जब पूछा गया कि वे पश्चिमी सभ्यता के बारे में क्या सोचते हैं): ‘मुझे लगता है कि यह एक अच्छा विचार होगा

मानवता की महानता मानव होने में नहीं है, बल्कि मानवीय होने में है

Famous Slogan of Mahatma Gandhi in Hindi – महात्मा गांधी के नारे

ये कर्म है, ना कि कर्म का फल जो महत्वपूर्ण है. आपको सही चीज करनी है. हो सकता है ये आपके बस में ना हो कि कोई फल मिलेगा. लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि आप सही चीज करना छोड़ दें

विश्व के सभी धर्म, भले ही और चीजों में अंतर रखते हों, लेकिन सभी इस बात पर एकमत हैं कि दुनिया में कुछ नहीं बस सत्य जीवित रहता है

जिस दिन प्रेम की शक्ति, शक्ति के प्रति प्रेम पर हावी हो जायेगी, दुनिया में अमन आ जायेगा

हर इंसान को अपनी शान्ति अपने अन्दर खोजनी होगी. और शांति वास्तविक होने के लिए बाहरी परिस्थितयों से अप्रभावित होनी चाहिए

प्रेम दुनिया की सबसे बड़ी शक्ति है और फिर भी हम जिसकी भी कल्पना कर सकते हैं उसमे ये सबसे नम्र है

महात्मा गांधी के अनमोल वचन

कोई त्रुटी तर्क-वितर्क करने से सत्य नहीं बन सकती और ना ही कोई सत्य इसलिए त्रुटी नहीं बन सकता है क्योंकि कोई उसे देख नहीं रहा

निरंतर विकास जीवन का नियम है, और जो व्यक्ति खुद को सही दिखाने के लिए हमेशा अपनी रूढ़िवादिता को बरकरार रखने की कोशिश करता है वो खुद को गलत स्थिति में पंहुचा देता है

अपने प्रयोजन में दृढ विश्वास रखने वाला एक सूक्ष्म शरीर इतिहास के रुख को बदल सकता है

पूंजी अपने-आप में बुरी नहीं है, उसके गलत उपयोग में ही बुराई है. किसी ना किसी रूप में पूंजी की आवश्यकता हमेशा रहेगी

चिंता से अधिक कुछ और शरीर को इतना बर्बाद नहीं करता, और वह जिसे ईश्वर में थोडा भी यकीन है उसे किसी भी चीज के बारे में चिंता करने पर शर्मिंदा होना चाहिए

Famous Slogans By Mahatma Gandhi

Mahatma Gandhi Ke Vichar Hindi Me

अधिक संपत्ति नहीं बल्कि सरल आनंद को खोजें; बड़े भाग्य नहीं बल्कि परम सुख को खोजें

आपकी मान्यताएं आपके विचार बन जाते हैं, आपके विचार आपके शब्द बन जाते हैं, आपके शब्द आपके कार्य बन जाते हैं, आपके कार्य आपकी आदत बन जाते हैं, आपकी आदतें आपके मूल्य बन जाते हैं, आपके मूल्य आपकी नीयति बन जाती है

विश्वास को हमेशा तर्क से तौलना चाहिए. जब विश्वास अँधा हो जाता है तो मर जाता है

विविधता में एकता प्राप्त करने की हमारी क्षमता हमारी सभ्यता की सुन्दरता और परीक्षा होगी

मेरे दोष और मेरी असफलताएं भगवान् के उतने बड़े ही आशीर्वाद हैं जितनी की मेरे सफलताएं और मेरी प्रतिभा और मैं इन दोनों को उनके चरणों में रखता हूँ

Great Thoughts By Mahatma Gandhi in Hindi – महात्मा गांधी सन्देश

हां, मैं एक मुस्लिम, एक ईसाई, एक बौद्ध और एक यहूदी भी हूं

महिला को वीकर सेक्स कहना अपमान है; ये आदमी का औरत के प्रति किया गया अन्याय है

हो सकता है आप कभी ना जान सकें कि आपके काम का क्या परिणाम हुआ, लेकिन यदि आप कुछ करेंगे नहीं तो कोई परिणाम नहीं होगा

मेरे विचार से, एक मेमने का जीवन मनुष्य के जीवन से कम मूल्यवान नहीं है

मैं तुम्हे शांति का प्रस्ताव देता हूँ. मैं तुम्हे प्रेम का प्रस्ताव देता हूँ. मैं तुम्हारी सुन्दरता देखता हूँ. मैं तुम्हारी आवश्यकता सुनता हूँ. मैं तुम्हारी भावना महसूस करता हूँ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *