Matlabi Shayari

Matlabi Shayari|मतलबी शायरी – मतलबी लोग शायरी – TBR

Posted by

आज की दुनिया में सच्चे और ईंमानदार लोग बहुत ही कम देखने को मिलते हैं | बहुत से लोग अपना मतलब निकालने के लिए मीठी-मीठी बातें करते हैं और आपको धोका दे देते हैं | हर कोई बस अपना काम निकलवा चाहता है और यह नहीं सोचता की यह कर के हम किसी व्यक्ति की भावनाओ को ठेस पहुंचाते हैं | हमे कभी भी किसी से मतल के लिए यारी नहीं करनी चाहिए क्यूंकि ऐसा करना हमारे लिए भी नुकसानदायक हो सकता है, क्यूंकि आज हम किसी के साथ मतलब निकालने के लिए उसे धोका दे रहे हैं तो एक दिन व्ही व्यक्ति हमारे साथ व्ही काम कर सकता है | आइये अब हम आपको मतलबी लोगों पर बनी कुछ शायरियों के बारे में बताते हैं |

Matlabi shayari in hindi


मतलब बङे भारी होते हैं
निकलते ही रिश्तों का वज़न कम कर देते हैं...
Click To Tweet

एक रिश्ते में टिकते क्यूॅ नहीं हो इतने सस्ते हो,
फिर बिकते यूॅ नहीं हो प्यार, अदब तहज़ीब, सलीका, ये ढोंग क्यूॅ,
जैसे हो वैसे दिखते यूॅ नहीं हो
Click To Tweet

Matlabi shayari images

Matlabi shayariimg1

मुझे क्या...
तुम्हे क्या...
हमें क्या...
यही करते करते बस रिशते
खत्म हो जाते हैं
Click To Tweet

मुस्कुरा कर देखने में और
देख कर मुस्कुराने मे बाहुत फर्क है,
मायनों के साथ रिशते बदल देता है
Click To Tweet

मतलबी दोस्त शायरी


मतलब से कितने ही रिश्ते बनाने
की कोशिश करो वो रिश्ता कभी नहीं बनेगा आैर
प्यार से बने रिश्ते को तोङने की कितनी भी कोशिश
करो वो रिश्ता कभी नहीं टूटेगा
Click To Tweet

जब रिश्ता नया होता है तो
लोग बात करने का बहाना ढूंढते हैं
और जब वही रिश्ता पुराना हो जाता है तो
लोग दूर होने का बहाना ढूंढते हैं
Click To Tweet

मतलबी दुनिया शायरी


सबूतों की ज़रूरत पङ रही है
यानी रिश्तों मे दूरी बढ़ रही है
Click To Tweet

रिश्ते वो नहीं जिसमें रोज बात हो...
रिश्ते वो भी नहीं जो हर पल साथ हो...
रिश्ते तो वो होते है,
जिसमें कितनी भी दूरी हो फिर भी दिल में उसकी याद हो
Click To Tweet

मतलबी रिश्ते शायरी


जब रिश्ता नया होता है तो
लोग बात करने का बहाना ढूंढते हैं
आैर जब वही रिश्ता पुराना हो जाता है तो
लोग दूर होने का बहाना ढूंढते हैं
Click To Tweet

रिश्ते खराब होने की एक वजह ये भी है,
कि लोग झुकना पसंद नहीं करते
Click To Tweet

Matlabi shayari 2 lines


जो रिशते गहरे होते हैं
वो अपनेपन का शोर नहीं मचाते
Click To Tweet

छुपे-छुपे से रेहते हैं सरेआम नही होते
कुछ रिशते सिर्फ अहसास हैं, उनके नाम नही होते
Click To Tweet

मतलबी प्यार शायरी


कभी-कभी रिश्तों की कीमत वो लोग समझा देते हैं
जिनसे हमारा कोई रिश्ता नहीं होता
Click To Tweet

मुझे रिश्ते की लम्बी कतारों से मतलब नहीं
कोई दिल से हो मेरा तो एक शख्स ही काफी है।
Click To Tweet

Matlabi shayari pic

Matlabi log Shayari

मतलबी लडकी से अच्छी तो मेरी सिगरेट हे यारो……..
जो मेरे होठ से अपनी जिंदगी शुरू करती हे..
ओर मेरे कदमो के नीचे अपना दम तोड देती हे…!

अपने मतलब के लिये लोग, कितना बदल जाते हैं
वे अपनों को पीछे धकेल कर, आगे निकल जाते हैं
कोई मरता भी हो तो उनकी बला से,
वो तो लाशों पर पाँव रखकर, आगे निकल जाते हैं

Matlabi shayari in english


Jinki Dosti mein hum deewane ho gaye, Woh humse hi begane ho gaye, Shayad unhe talaash hai abh naye Dost ki, Kyunki unki nazar mein hum poorane ho gaye.
Click To Tweet

Apne matlab k liye log kitna badl jate hein wo
apno ko piche dhkel k agee nikl jate hein koi 
martaa bhi ho to unki blaa se Wo too lasho 
pe pair Rakhkr agee Nikl jatee hein
Click To Tweet

Matlabi shayari download

मतलबी दुनिया में लोग अफसोस से कहते है की,
कोई किसी का नही…?
लेकीन कोई यह नहीं सोचता की हम किसके हुए

मज़बूत होने में मज़ा ही तब है,
जब सारी दुनिया कमज़ोर कर देने पर तुली हो

मतलब की दुनिया शायरी

सिखा दिया दुनिया ने मुझे अपनों पे भी शक करना
मेरी फ़ितरत में तो था गैरों पे भरोसा करना

कैसे करू भरोसा गैरो के प्यार पर,
अपने ही मजा लेते अपनो की हार पर

मतलबी लोग शायरी फोटो

कुछ यूँ हुआ कि.जब भी जरुरत पड़ी मुझे
हर शख्स इतेफाक से.मजबूर हो गया !!

Matlabi shayariimg2

मुखौटे बचपन में देखे थे मेले में टंगे हुए
समझ बढ़ी तो देखा लोगों पे है चढ़े हुऐ

Matlabi log shayari in hindi

मुझको क्या हक, मैं किसी को मतलबी कहूँ..
मैं खुद ही ख़ुदा को, मुसीबत में याद करता हूँ !

ढूॅढना ही है तो परवाह करने वालों को ढॅूढ़ीये साहेब…
इस्तेमाल करने वाले तो ख़द ही आपको ढॅूढ़ लेंगे

मतलबी लोग शायरी इन हिंदी

न जाने कैसी नज़र लगी है ज़माने की
अब वजह नहीं मिलती मुस्कुराने की

मेरी तारीफ करे या मुझे बदनाम करे,
जिसने जो बात करनी है सर-ए-आम करे

मतलबी लोगों पर शायरी

मसला यह भी है इस ज़ालिम दुनिया का ..
कोई अगर अच्छा भी है तो वो अच्छा क्यॅ है..

आज गुमनाम हूँ तो ज़रा फासला रख मुझसे..
कल फिर मशहूर हो जाऊँ तो कोई रिश्ता निकाल लेना

Matlabi hain log shayari

तेरी रुस्वाई से मुझे एक सबक मिला है
दुश्मन भी इतना नहीं करता जितना
तूने दोस्त बनके किया है।

कभी मतलब के लिए
तो कभी बस, दिल्लगी के लिए
हर कोई मुहब्बत ढूंढ रहा है
यहाँ ज़िन्दगी के लिये

ऊपर हमने आपको Matlabi log shayari images, Matlabi log ki shayari, matlabi log sad shayari, matlabi logo par shayari Whatsapp, shayari in urdu, shayari facebook, मतलबी लोग शायरी मराठी, matlabi sher o shayari, मतलबी रिश्तेदार शायरी, मतलबी रिश्ते पर शायरी, दोगले लोग शायरी, झूठे लोग शायरी, मतलबी शायरी इन हिंदी आदि की जानकारी दी है जिसे आप अपने मिलने वाले, दोस्तों व परिजनों एवं सोशल मीडिया पर शेयर कर सकते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *