Pandit Jawaharlal Nehru Poem in Hindi -

Pandit Jawaharlal Nehru Poem in Hindi – Hindi Poem on Jawaharlal Nehru – Chacha Nehru Short Poetry Kavita

Posted by

जवाहर लाल नेहरू जी जो की स्वतंत्र भारत के प्रथम प्रधानमंत्री थे उनका जन्म 14 नवम्बर 1889 में इलाहबाद, उत्तर-पश्चिमी प्रान्त, ब्रिटिश भारत में व मृत्यु 74 साल की उम्र में 27 मई 1964 दिल्ली में हुई थी | जवाहर लाल नेहरू को लोग चाचा नेहरू के नाम से भी जानते है क्योकि इन्हे बच्चो से बहुत प्यार था इसीलिए बच्चे इन्हे चाचा नेहरू कह कर बुलाते था बच्चो के प्रति इनके प्यार को लेकर आज इनके जन्मदिवस को बाल दिवस के रूप में पुरे देश में माना जाता है | इसीलिए हम आपको जवाहर लाल नेहरू की कुछ बेहतरीन कविताये बताते है जिसे आप यहाँ से पढ़ सकते है |

Jawaharlal Nehru Favorite Poem

अगर आप poem on jawahar lal nehru, poem on jawaharlal nehru in english, poem on pandit jawaharlal nehru in english, short poems on jawaharlal nehru in hindi, poem on pt jawaharlal nehru in hindi, small poem on jawaharlal nehru, hindi poetry in hindi by jawaharlal nehru, jawaharlal nehru poet in tamil, jawaharlal nehru short poem, jawaharlal nehru kavita, jawaharlal nehru kavita hindi, कविता जवाहरलाल नेहरू के बारे में जानकारी यहाँ से पा सकते है :

चाचा नेहरु प्यारे थे,
भारत माता के राजदुलारे थे!,
देश के पहले पधानमंत्री थे,
स्वतंत्रता के सैनानी थे!

बच्चे इनको सदा प्यार से,
चाचा नेहरू कहते।
चाचाजी इन बच्चों के बीच,
बच्चे बनकर रहते है॥

अचकन में फूल लगाते थे,
हमेशा ही मुस्काते थे!
बच्चो से प्यार जताते थे!
चाचा नेहरु प्यारे थे!

Jawaharlal Nehru Short Poem

देश की खातिर जीना-मरना
यही आपने हमें सिखाया
सदा सभी से प्रेम से रहना
जीवन का उद्देश्य बताया

सब नेताओ से न्यारे तुम, बच्चो को सबसे प्यारे तुम,
कितने ही तूफान आ गए, लेकिन कभी नहीं हारे तुम ।
आजादी की लड़ी लड़ाई, बिना तमक, बिना तमाचा,

देश विदेश यह घूमते थे,
बहुत सारी जानकारी प्राप्त करते थे,
फिर भी अपने देश से यह प्यार करते थे!
चाचा नेहरु राजकुमारे थे!

Poem on Jawahar Lal Nehru

एक गुलाब ही सब पुष्पों में,
इनको लगता प्यारा।
भारत मां का लाल यह,
सबसे ही था न्यारा॥

हम भारत के भाल बनेंगे, वीर जवाहरलाल बनेंगे,
सीखी तुमसे बहादुरी है, हम दुश्मन के काल बनेंगे।
तुमने जो सपने देखे, साकार करें हम, यह अभिलाषा,

सारे जग को पाठ पढ़ाया,
शांति और अमन का।
भारत मां का मान बढ़ाया,
था यह ऐसा लाल चमन का॥

Short Poetry

Jawaharlal Nehru Hindi Poem

जवाहर लाल नेहरू जी की कुछ बेहतरीन कविताएं आप किसी भी भाषा जैसे Hindi, Kannada, Malayalam, Marathi, Telugu, Tamil, Gujarati, Punjabi, Nepali, English के Language Font 120 Words, 140 Character के लिए latest 3D HD Background Images, Wallpapers, Photos, GIF, Graphics, Pictures, Pics, Greeting, Inspirational, Message, SMS, Quotes, Wishes, Shayari, Thoughts, Caption, Youtube Video, Whatsapp Status के लिए में जानना चाहे तो यहाँ से जान सकते है :

नेहरू चाचा प्यारे चाचा
बच्चों की आँख के तारे चाचा

पंचशील का गाया गान, विश्व -शांति की छेड़ी तान,
दुनियां को माना परिवार, बही प्रेम-सरिता अविराम !
चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

नेहरु चाचा आओ ना
दुनिया को समझाओ ना
बच्चे कितने प्यारे होते
कोई उन्हे सताये ना

पोएम व जवाहरलाल नेहरू इन हिंदी

बांध बने बिजली निकाली।
नहरों से खेतों में हरियाली॥

कभी न छोडो सच की राहें
चाहे जितनी बाधा आएं
बढ़ते रहना आगे आगे
मुश्किल चाहे जितनी आएं

प्रगति का दिया इनाम।
नेहरू चाचा तुम्हें प्रणाम॥

Poems Written By Jawaharlal Nehru In Hindi

चाचा नेहरु का बच्चों से,
बहुत पुराना नाता.
जन्म दिवस चाचा नेहरु का,
बाल दिवस कहलाता.

सबको दिया ह्रदय का प्यार, चाहा जन-जन का उद्धार,
भारत माता की सेवा में, समझ लिया आराम हराम !

जन्मदिवस बच्चों के नाम।
नेहरू चाचा तुम्हें सलाम॥

Jawaharlal Nehru ki Kavita

चाचा नेहरु ने देखे थे,
नव भारत के सपने .
सपने पूरे कर सकते थे,
उनके बच्चे अपने.

ऐसी शिक्षा हमें आपसे
मिली यही सौभाग्य हमारा
मरकर भी हो गया अमर जो
चाचा नेहरू सबका प्यारा

शालाओं में भी होते हैं,
नये नये आयोजन .
जिन्हें देख आनंदित होते,
हम बच्चों के तन मन.

Hindi Poem on Jawaharlal Nehru

Jawaharlal Nehru Kavita Hindi

अगर आप चाचा नेहरू की कविता, बाल दिवस पर हास्य कविता, बाल दिवस पर कविता, जवाहरलाल नेहरू पोएम, बाल दिवस पर शेर, चाचा नेहरू पर कविता मराठी, पंडित जवाहरलाल नेहरू मराठी कविता
बाल दिवस पर पंक्तियाँ, childrens day poem in hindi, short poem on pandit jawaharlal nehru in english, poem on nehruji in hindi, bal diwas ki kavita in hindi, small poem chacha nehru, 14th november children’s day poems in hindi के बारे में यहाँ से जान सकते है :

सदा न होती हार किसी की
सदा जीतता नहीं कोई भी
हार मिले तो खुश ही रहना
जीत मिले तो नहीं फूलना

देश को दी हैं योजनाएं।
लोहा और इस्पात बनाए॥

तुमने किया स्वदेश स्वतंत्र, फूंका देश-प्रेम का मन्त्र,
आजादी के दीवानों में पाया पावन यश अभिराम !
चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

Poetry On Jawaharlal Nehru in Hindi

इस दिन हम सब बच्चें मिलकर,
गीत ख़ुशी के गाते .
चाचा नेहरु के चरणों में,
श्रद्धा सुमन चढ़ाते.

बाल दिवस के इस अवसर पर,
एक शपथ यह खाओ.
ऊँच नीच का भेद भूला कर,
सबको गले लगाओ.

जिस दिन लाल जवाहर ने था,
जन्म जगत में पाया।
उसका जन्मदिवस भारत में
बाल दिवस कहलाया।।

Chacha Nehru Par Kavita

पाकर तुम-सा अनुपम लाल, हुआ देश का ऊँचा भाल,
भूल नहीं सकते तुमको हम, अमर रहेगा युग-युग नाम !

नेहरु चाचा आओ ना
मधुमुस्कान दिखाओ ना
तुम गुलाब कि खुशबू हो
बचपन को महकाओ ना
नेहरु चाचा आओ ना
उजियारा फैलाओ ना
देशभक्त हों, पढें लिखें
एसा पाठ पढाओ ना
नेहरु चाचा आओ ना

नेहरू चाचा तुम्हें सलाम।
अमन-शांति का दे पैगाम॥
जग को जंग से बचाया।
हम बच्चों को भी मनाया॥
जन्मदिवस बच्चों के नाम।
नेहरू चाचा तुम्हें सलाम॥
देश को दी हैं योजनाएं।
लोहा और इस्पात बनाए॥
बांध बने बिजली निकाली।
नहरों से खेतों में हरियाली॥
प्रगति का दिया इनाम।
नेहरू चाचा तुम्हें प्रणाम॥

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *