Shayari ki Diary

Shayari ki Diary | Sayri ki dayri

Posted by

आज के समय में बहुत से लोग है जो की अपनी आत्मकथन या शायरी एवं गीत को डायरी में लिखकर वर्णन करते है| डायरी में लोग आज के समय में अपने दिन भर की या निझी जिंदिगी से सम्पन्धित जानकारी शब्दों के माध्यम से वर्णन करते है| बहुत से लोग है जिन्हे शायरी या कविता बनाने का शौक है| वे उन शायरी को डायरी में लिखते है| अगर आप भी अपनी डायरी में लिखने के लिए शायरी ढूंढ रहे है तो नीचे दी गई शायरियो का इस्तेमाल कर सकते है|

इतने दिन ईद का इंतजार क्यूँ करे
लग जाओ ना गले किसी ओर बहाने से
itne Din Eid Ka Intzaar Kyu Kre
Lag Jaao Na Gale Kisi Aour Bhane Se

उनकी जुस्तुज़ू, उनका इन्तज़ार, और अकेलापन
थक कर मुस्कुरा देता हूँ जब रोया नहीं जाता
Unki Zustzoo Unka Intzaar Aour AkelaPan
Thak Kar Mushkura Deta Hoon Jab Roya Nhi Jata

शायरी की डायरी

माफ़ तुझको न करेगी कभी तारीखे वफ़ा
देश के नाम पे ऐ धब्बा लगाने वाले
Maaf Tujhko Na Krenge Kabhi Tareekhe Wfa
Desh Ke Naam Pe Ae Dhabba Lgane Wale

मजबूरियों ने हमको बागी बना दिया
वरना हमारे सर तो हरदम झुक रहे
Mazbooriyo Ko Humne Bagi Bna Diya
Warna Hmare Sar To Hardah Jhuk Rhe

शायरी की डायरी डाउनलोड

रोशनी के लिए घर जलाना पडा
कैसी ज़ुल्मत बढ़ी तेरे जाने के बाद
Roshni Ke Liae Ghar Jlana Pda
Kaisi Zulm Bdhi Tere Jane Ke Baad

मिलेंगे कभी तो खूब रुलायेंगे उन्हें.
सुना है…रोते हुवे लिपट जाने की आदत है उन्हें
Milenge Kabhi To Khoob Rulaaenge Unhe
Suna Hai Rote Huae Lipat Jane Ki Aadat Hai Unhe

Shayari in hindi

मसला ये भी है इस ज़ालिम दुनिया का
कोई अगर अच्छा भी है तो क्यूँ है
Masla Ye Bhi Hai Es Zalim Duniya Ka
Koy Agar Accha Bhi Hai To Kyu Hai

उस मोड़ से शुरू करनी है फिर से जिंदगी
जहाँ सारा शहर अपना था और तुम अजनबी
Us Mod Se Shooru Karni Hai Fir Se Zindgi
Jhan Sara Sahar Apna Tha Aour Tum Aznabi

Shayri ki dayri sad

वो पूरी गिन्दगी अपनी इमेज बनाने में रह गए
और हम पूरी gallary बना गए
Wo Puri Life Apni Imaje Bnane Me Rah Gae
Aour Hme Puri Gailri Bga Gae

लगता है इक बार फिर मोहब्बत हो ही जाएगी
रात फिर खाव्ब में खुद को मरते देखा है
Lagta Hai Ek Baar Fir Mohabbat Ho Hi Jaaegi
Raat Fir Khawab Me Khud Ko Marte Dekha Hai

Shayri ki dayri love

Sayri ki dayri

वो आईना देख मुस्कुरा के बोली
बेमौत मरेगा मुझ पर मरने वाला
Wo Aayna Dekh Mushkura Ke Boli
Be Moust Mrega Mujh Pr Marne Wala

Meri Diary Sad Shayari

मेरी ख़ामोशी को कमजोरी ना समझ ऐ दोस्त
गुमनाम समन्दर ही खौफ लाता है
Meri Khamoshi Ko Kamzori Na Smajh Ae Dost
Gumnaam Smundar Hi Khouf Lata Hai

Sad Sayri ki dayri

शेरो को पूरी आजादी , चाहे जो अंजाम करे
खेले , खाए , चीरे , फाड़े जैसे चाहे राज करे
Shero Ko Puri Aazadi Chahe Jo Anzaam Kre
Khele, Khaae, Cheere, Fhade, Jaise Chahe Raaz Kre

गैरों की कही बातो में हम आजकल रहते है
दिल की सुनते नहीं मजहब को ही घर कहते हैं
Gairo Ki kahi Bato Me Hum Aajkal Rahte Hai
Dil Ki Sunte Nhi Mazhab Ko Hi Ghar Kahte Hai

शायरी की डायरी इमेज

करार दिल को जिसके नाम से आया.
वो जब भी आया बस किसी काम से आया
Krar Dil Ko Jiske Naam Se Aaya
Wo Jab Aaya Bas Kisi Kaam Se Aaya

Shayari Ki Dayri

अब तू तो नहीं, शिकवा-ए-गम किससे कहें
या चुप रहें या रो पड़ें, किस्सा-ए-गम किससे कहें
Ab Too Nhi Shikwa-E- Gam Kisse Khe
Ya Chup Rhe Ya Ro Pade Kissa-E- Gam Kisse Khe

Shayari ki diary love

ये जरुरी नहीँ कोई ताल्लुक़ हो तुमसे
सुकूँ देता है तेरा दिखते रहना भी
Ye Jaroori Nhi Koy Talluk Ho Tumse
Sukoon Deta Hai Tera Dikhte Rahna Bhi

जिसे तैरना सिखाओ, वही डुबाने को तैयार रहता हैं.
खुदगर्ज की बस्ती में, एहसान भी एक गुनाह हैं
Jise Terna Sikhaao Vhi Dubane Ke Liae Tayyar Rahta Hai
Khudgarz Ki Basti Me Ehsan Bhi Ek Gunaah Hai

Diary romantic

अगर आपको शायरी की डायरी डाउनलोड इन हिंदी, shayari ki dayri, shayri ki dayri in hindi, english, image,  s k diary shayari images, Dear Diary Image, attitude, फोटो,  Meri Dairy Se, attitude की जानकारी चाहिए तो इस पोस्ट की मदद ले सकते है|

हम तो बस अल्फ़ाज़ों के मालिक थे
जो बस तेरे पे लुटा दिए
Hum To Bas Alfazo Ke Malik The
Jo Bas Tere Pe Luta Diae

जिनके जाने पर परिवार को दुःख कम और गर्व ज्यादा होता है,
बस उनकी ही वजह से पूरी हिदुस्तान चैनसे सोता है
Jiske Jane Par Pariwaar Ko Dukh Kam Aour Garv Jyada Hota Hai
Bas Unki Hi Wzah Se Puri Hindustaan Sota Hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *