Festival (त्यौहार)

5 Lines on Gandhi Jayanti in Hindi & English for Class 1-8 kids – 2 October Mahatma Gandhi 10 Points

Gandhi Jayanti Lines

Gandhi Jayanti 2019: गांधी जयंती को राष्ट्र के पिता मोहनदास करमचंद गांधी के जन्मदिन को चिह्नित करने के लिए भारत में राष्ट्रीय अवकाश के रूप में मनाया जाता है। गांधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को हुआ था; इसलिए हर साल गांधी जयंती मनाया जाता है। यह भारत के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में मनाया जाता है| यह भारत के तीन आधिकारिक घोषित भारत की राष्ट्रीय अवकाश में से एक है। 15 जून 2007 को, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने घोषणा की कि 2 अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में मनाया जाएगा।

Gandhi Jayanti Lines

अक्सर class 1, class 2, class 3, class 4, class 5, class 6, class 7, class 8, class 9, class 10, class 11, class 12 के विद्यार्थियों को कहा जाता है महात्मा गाँधी पर हिंदी लेख लिखें| आइये अब हम आपको 2 lines on gandhi jayanti, gandhi jayanti tagline, 10 points on mahatma gandhi in english for class 2, आदि की जानकारी देंगे|

  • Gandhi Jayanti is celebrated as a National Holiday in India to mark the birthday of Mohandas Karamchand Gandhi, the ‘Father of the Nation’.
  • Gandhi was born on 2nd October 1869; therefore each year Gandhi Jayanti is celebrated on this day.
  • It is observed in all states and union territories of India as one of the three official declared National Holidays of India.
  • On 15 June 2007, The United Nations General Assembly announced that October 2nd will be celebrated as the International Day of Non-Violence.
  • Gandhi had a natural love for ‘truth’ and ‘duty’.
  • With his complete dedication and confidence, Gandhi freed India from the British Rule and proved the world that freedom can be achieved with non-violence.
  • Even today his teachings are encouraged to stay away from violence and find peaceful solutions to conflicts.
  • For Gandhi, Truth and Non-violence was his entire philosophy of life.

5 lines on Gandhi Jayanti in Hindi

  • गाँधी जयंती 3 राष्ट्रीय अवकाशों में से एक है (स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस)।
  • भारत के राष्ट्रपिता अर्थात महात्मा गाँधी को श्रद्धाँजलि देने के लिये हर वर्ष 2 अक्टूबर को इसे मनाया जाता है।
  • विशेष उत्सवों में से एक के रुप में इसे माना जाता है इसी वजह से 2 अक्टूबर को अपने देशभक्त नेता के प्रति सम्मान प्रदर्शित करने के लिये भारतीय सरकार द्वारा शराब की बिक्री जैसे बुरे कार्यों पर सख्ती से रोक लगा दी जाती है।
  • 2 अक्टूबर 1869 वह दिन था जब इस महान नेता ने जन्म लिया। ये भारत के सभी राज्यों तथा केन्द्र शासित प्रदेशों में मनाया जाता है।
  • इस दिन को मनाने का एक बड़ा महत्व है; 15 जून 2007 को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा अहिंसा के अंतरराष्ट्रीय दिवस के रुप में 2 अक्टूबर को घोषित किया गया।

Gandhi Jayanti 10 lines

5 Lines on Gandhi Jayanti in Hindi

  • पूरे भारतवर्ष में राष्ट्रीय कार्यक्रम के रुप में 2 अक्टूबर मनाया जाने वाला कार्यक्रम गाँधी जयंती महात्मा गाँधी का जन्म दिवस है।
  • इसे भारत के राष्ट्रपिता मोहनदास करमचन्द गाँधी (बापू के नाम से प्रसिद्ध) को सम्मान देने के लिये राष्ट्रीय अवकाश के रुप में मनाया जाता है।
  • 15 जून 2007 को संयुक्त राष्ट्र महासभा के द्वारा घोषित किये जाने के बाद इसे अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रुप में मनाया जाता है।
  • गाँधी जी अहिंसा के उपासक थे और उन्होंने अपने पूरे जीवन भर इसके पथ पर चलते हुए देश की आजादी के लिये संघर्ष किया।
  • आज बापू हमारे बीच में शांति और सच्चाई के प्रतीक के रुप में याद किये जाते है।
  • हर साल हम सभी गाँधी जयंती, उनके जन्म दिवस पर उनको और उनके कार्यों को याद करने के द्वारा गाँधी जी को दिल से श्रद्धांजलि देते है।
  • गाँधी जयंती एक राष्ट्रीय अवकाश है, इसलिये सभी स्कूल, कॉलेज, सरकारी और गैर-सरकारी कार्यालय पूरे दिन के लिये बंद रहते है।
  • बापू ने हमारे सामने और आने वाली पीढ़ियों के समक्ष सादा जीवन और उच्च विचार का एक बेहतरीन उदाहरण प्रस्तुत किया है।
  • वह हमेशा ध्रुम्रपान और मद्यपान के खिलाफ थे इसी वजह से सरकार द्वारा गाँधी जयंती के अवसर पर शराब की बिक्री पर पूरे दिन के लिये कठोरता से रोक लगाई जाती है।
  • वो एक देशभक्त नेता थे जिन्होंने ब्रिटिश शासन से भारत की स्वतंत्रता के लिये अहिंसा आंदोलन की शुरुआत की।

Gandhi Jayanti Few Lines

मोहनदास करमचन्द गाँधी के जन्म दिवस को चिन्हित करने के लिये 2 अक्टूबर को हर वर्ष पूरे भारत में मनाये जाने वाला राष्ट्रीय अवकाश है गाँधी जयंती। वह भारत के राष्ट्रपिता तथा बापू के रुप में प्रसिद्ध है। ये उपाधि उन्हें आधिकारिक रुप से प्राप्त नहीं है क्योंकि किसी को भी राष्ट्र के पिता के रुप में स्थान देना भारत के संविधान में उल्लिखित नहीं है। 15 जून 2007 को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रुप में महात्मा गाँधी के जन्म दिवस को घोषित किया गया। गाँधी जयंती पूरे भारत में राष्ट्रीय अवकाश के रुप में जबकि पूरे विश्व में अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रुप में को मनाया जाता है।

5 Lines on Gandhi Jayanti in English

  • Mahatma Gandhi was a man with simple tastes and values.
  • With keeping that in mind and giving him full honour and respect the festivities on this day are very less.
  • The President and the Prime Minister, along with other political leaders, pay homage at Raj Ghat, the Samadhi of Mahatma Gandhi in New Delhi.
  • To honour Gandhi’s respect for all religions and communities, representatives from different religions take part in the prayer meeting held at Raj Ghat.
  • Prayers and Verses are read out from Holy books of all religions.

10 Lines on Mahatma Gandhi for Class 3rd

  • तीसरे महत्वपूर्ण राष्ट्रीय कार्यक्रम के रुप में हर साल गाँधी जयंती को मनाया जाता है।
  • महात्मा गाँधी जन्म दिवस पर को उनको श्रद्धांजलि देने के लिये पूरे देश के भारतीय लोगों द्वारा 2 अक्टूबर को इसे मनाया जाता है।
  • गाँधी देश के राष्ट्रपिता तथा बापू के रुप में प्रसिद्ध है। वो एक देशभक्त नेता थे और अहिंसा के पथ पर चलते हुए पूरे देश का भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में नेतृत्व किया।
  • उनके अनुसार, ब्रिटिश शासन से स्वतंत्रता की लड़ाई जीतने के लिये अहिंसा और सच्चाई ही एकमात्र हथियार है।
  • वह कई बार जेल भी गये हालाँकि देश को आजादी मिलने तक उन्होंने अपने अहिंसा आंदोलन को जारी रखा।
  • वह हमेशा सामाजिक समानता में भरोसा रखते थे इसीलिये अस्पृश्यता के घोर खिलाफ थे।
  • सरकारी अधिकारियों द्वारा नई दिल्ली में गाँधीजी की समाधि या राजघाट पर बहुत तैयारियों के साथ गाँधी जयंती मनायी जाती है।
  • राजघाट के समाधि स्थल को फूलों की माला तथा फूलों से सजाया जाता है तथा इस महान नेता को श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है।
  • समाधि पर सुबह के समय धार्मिक प्रार्थना भी रखी जाती है।
  • इसे पूरे देशभर में स्कूल और कॉलेजों में विद्यार्थीयों के द्वारा खासतौर से राष्ट्रीय उत्सव के रुप में मनाया जाता है।
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

Copyright © 2018 Hindiguides.in

To Top