Quotes

Bhagat Singh Slogans in Hindi & English | भगत सिंह के नारे

Bhagat Singh Hindi Slogans

भारत के सबसे प्रमुख क्रांतिकारियों में से एक, भगत सिंह का जन्म 28 सितंबर 1907 को वर्तमान पाकिस्तान के लैलापुर जिले के बंगा गाँव में एक सिख परिवार में हुआ था।वह समाजवाद की ओर बहुत आकर्षित थे। माना जाता है कि भारत के शुरुआती मार्क्सवादियों में से एक, भगत सिंह हिंदुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन (HSRA) के नेताओं और संस्थापकों में से एक थे। सरदार किशन सिंह और विद्यावती के तीसरे बेटे, भगत सिंह के पिता और चाचा ग़दर पार्टी के सदस्य थे। हालांकि उन्होंने असहयोग आंदोलन में भाग लिया, लेकिन जब चौरी चौरा की घटना के बाद गांधी ने आंदोलन बंद किया तो वे निराश थे।

Inquilab Zindabad


इंकलाब जिंदाबाद
Click To Tweet


बम और पिस्तौल क्रांति नहीं लाते, क्रान्ति की तलवार विचारों के धार बढ़ाने वाले पत्थर पर रगड़ी जाती है।
Click To Tweet

भगत सिंह पर शायरी


मैं एक मानव हूं और जो कुछ भी मानवता को प्रभावित करता है उससे मुझे मतलब है।
Click To Tweet


निष्ठुर आलोचना और स्वतंत्र विचार ये क्रांतिकारी सोच के दो अहम लक्षण हैं।
Click To Tweet

Bhagat Singh Slogan in Hindi


ज़रूरी नहीं था की क्रांति में अभिशप्त संघर्ष शामिल हो, यह बम और पिस्तौल का पंथ नहीं था।
Click To Tweet


व्यक्तियो को कुचल कर, वे विचारों को नहीं मार सकते।
Click To Tweet

Bhagat Singh Slogans in English


Revolution an inalienable right of mankind. Freedom is an imperishable birthright of all. Labour is the real sustainer of society.
Click To Tweet


One should not interpret the word “Revolution” in its literal sense. various meanings and significances are attributed to this word, according to the interests of those who use or misuse it.
Click To Tweet

Bhagat Singh Nara

Bhagat Singh English Slogans


राख का हर एक कण मेरी गर्मी से गतिमान है मैं एक ऐसा पागल हूं जो जेल में भी आज़ाद है।
Click To Tweet


प्रेमी, पागल, और कवी एक ही चीज से बने होते हैं।
Click To Tweet

Bhagat Singh Ke Nare in Hindi


मैं इस बात पर जोर देता हूं कि मैं महत्‍वाकांक्षा, उम्‍मीद और जिंदगी के प्रति आकर्षण से भरा हूं लेकिन जरूरत पड़ने पर ये सब त्‍याग सकता हूं और वही सच्‍चा बलिदान है |
Click To Tweet


क्रांति मानव जाति का एक अपरिहार्य अधिकार है | स्‍वतंत्रता सभी का ए‍क कभी न खत्‍म होने वाला जन्‍मसिद्ध अधिकार है | श्रम समाज का वास्‍तविक निर्वाहक है |
Click To Tweet

Bhagat Singh Slogan Inquilab Zindabad


इंसान तभी कुछ करता है जब वो अपने काम के औचित्य को लेकर सुनिश्चित होता है , जैसाकि हम विधान सभा में बम फेंकने को लेकर थे |
Click To Tweet


अगर बहरों को सुनाना है तो आवाज को बहुत जोरदार होना होगा. जब हमने बम गिराया तो हमारा मकसद किसी को मारना नहीं था. हमने अंग्रेज हुकूमत पर बम गिराया था |
Click To Tweet

भगत सिंह के नारे इंग्लिश में

आइये अब हम आपको भगत सिंह पर स्लोगन, भगत सिंह स्टेटस, slogan of bhagat singh in punjabi, bhagat singh par slogan, भगत सिंह के लेख, भगत सिंह के अनमोल विचार, भगत सिंह के विचार, भगत सिंह के कार्य, भगत सिंह फोटो, slogans on patriotism for kids., patriotic slogans, satyamev jayate slogan, quiz on slogans of freedom fighters, all slogans of freedom fighters pdf, bhagat singh dialogues for fancy dress, शहीद भगत सिंह के नारे, भगत सिंह पर कविता, भगत सिंह पर नारे, भगत सिंह का नारा इन हिंदी किसी भी भाषा जैसे Hindi, हिंदी फॉण्ट, Urdu, उर्दू, English, sanskrit, Tamil, Telugu, Marathi, Punjabi, Gujarati, Malayalam, Nepali, Kannada के Language Font में साल 2007, 2008, 2009, 2010, 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2016, 2017 का full collection जिसे आप relative, friends & family whatsapp, facebook (fb) व instagram पर share कर सकते हैं|

किसी को “क्रांति ” शब्द की व्याख्या शाब्दिक अर्थ में नहीं करनी चाहिए। जो लोग इस शब्द का उपयोग या दुरूपयोग करते हैं उनके फायदे के हिसाब से इसे अलग अलग अर्थ और अभिप्राय दिए जाते है।

ज़रूरी नहीं था की क्रांति में अभिशप्त संघर्ष शामिल हो। यह बम और पिस्तौल का पंथ नहीं था।

Shaheed Bhagat Singh Slogan

दा रहने की ख्वाहिश कुदरती तौर पर मुझमें भी होनी चाहिए । मैं इसे छिपाना नहीं चाहता, लेकिन मेरा जिंदा रहना एक शर्त पर है । मैं कैद होकर या पाबंद होकर जिंदा रहना नहीं चाहता ।

व्यक्तियो को कुचल कर , वे विचारों को नहीं मार सकते।

Slogans on freedom in english

आमतौर पर लोग जैसी चीजें हैं, उसके आदी हो जाते हैं
और बदलाव के विचार से ही कांपने लगते हैं. हमें निष्क्रियता
की भावनर को क्रांतिकारी भावना से बदलना है

I am a man and all that affects
mankind concerns me

Bhagat Singh Ke Slogan in Hindi

किसी ने सच ही कहा है, सुधार बूढ़े आदमी नहीं कर सकते । वे तो बहुत ही बुद्धिमान और समझदार होते हैं । सुधार तो होते हैं युवकों के परिश्रम, साहस, बलिदान और निष्ठा से, जिनको भयभीत होना आता ही नहीं और जो विचार कम और अनुभव अधिक करते हैं।

प्रेमी, पागल, और कवी एक ही चीज से बने होते हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

Copyright © 2018 Hindiguides.in

To Top