Uncategorized

Gudi Padwa Shayari – गुडी पडवा शायरी

गुड़ी_पड़वा_इमेज_5

गुड़ी पड़वा हर साल चैत्र मास के पहले दिन यानि चैत्र की शुक्ल प्रतिपदा को मनाया जाता है।इस दिन से ही हिन्दू कलैंडर के अनुसार नव संवत्सर की शुरुआत होती है।सभी लोग गुड़ी की पूजा करकर घरों में विजय पताका फहराते है।इस बार Gudi Padwa 2020 Date25 March है।

इस आर्टिकल में हम आपके लिए लेकर आए हैं top,new, latest, best collection,शेरी शायरी,गुड़ी पड़वा शायरी,गुढीपाडव्याच्या हार्दिक शुभेच्छा, जिन्हे आप WhatsApp, facebook पर भेजकर अपने फ़्रेंड्स, फॅमिली मेम्बर्स,relatives या अन्य किसी को फॉरवर्ड करकर विश कर सकते हैं।हिन्दू कैलंडर के अनुसार vikram samvat 2077 वर्तमान वर्ष है।

Gudi Padwa Shayari in Hindi

सबके दिलों में हो सबके लिए प्यार
आनेवाला हर दिन लाये खुशियों का त्यौहार
इस उम्मीद के साथ आओ भूलके सारे गम
न्यू इयर को हम सब करें वेलकम
हिन्दू नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें


खुशियां हो ओवरफ्लो
मस्ती कभी न हो लो
धन और शोहरत की हो बौछार
ऐसा आये आपके लिए नवरात्रि का त्यौहार
हिन्दू नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं


नौ दुर्गा के आगमन से सजता हैं नव वर्ष
गुड़ी के त्यौहार से खिलता हैं नव वर्ष
कोयल गाती है नववर्ष का मल्हार
संगीतमय सजता प्रकृति का आकार
चैत्र की शुरुवात से होता नव आरंभ
यही हैं हिन्दू नव वर्ष का शुभारम्भ
हिन्दू नव वर्ष की शुभकामनायें


प्रेम और सौहार्द से करते नव वर्ष का आगाज़
सभी दिलो में प्रेम रहे और बढे ज्ञान रूपी प्रकाश
नव वर्ष की बैला छाई है हर जगह
चलो मनाये हिन्दू नव वर्ष फिर एक साथ
हिन्दू नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं


गुड़ी_पड़वा_इमेज_1

नव-वर्ष की पावन बेला में
है यही शुभ संदेश
हर दिन आये
आपके जीवन में
लेकर खुशियाँ विशेष
इसी शुभकामनाओं के साथ
हिन्दू नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं


नए पत्ते आते है वृक्ष खुशी से झूम जाते हैं
ऐसे मौसम में ही तो नया आगाज़ होता हैं
हम यूँही हैप्पी न्यू ईयर नहीं मनाते हैं
हिन्दू धर्म में यह त्यौहार प्राकृतिक बदलाव से आते हैं
हिन्दू नव वर्ष की शुभकामनायें


हिन्दू नव वर्ष की है शुरुवात
कोयल गाये हर डाल-डाल, पात-पात
चैत्र माह की शुक्ल प्रतिपदा का हैं अवसर
खुशियों से बीते नव वर्ष का हर एक पल
हिन्दू नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें


गुड़ी पड़वा की हैं अनेक कथाएं
गुड़ी ही विजय पताका कहलाये
पेड़ पौधों से सजता हैं चैत्र माह
इसलिए हिन्दू धर्म में यह नव वर्ष कहलाये
हैप्पी गुड़ी पड़वा


गुड़ी पड़वा की हैं अनेक कथाये गुड़ी ही विजय पताका कहलाये
पेड़ पौधों से सजता हैं चैत्र माह
इसलिए हिन्दू धर्म में यह नव वर्ष कहलाये


आई हैं बहारे, नाचे हम और तुम
पास आये खुशियां और दूर जाए ग़म
प्रकृति की लीला हैं छाई
सभी को दिल से गुड़ी पड़वा की बधाई


वृक्षों पर सजती नये पत्तों की बहार
हरियाली से महकता प्रकृति का व्यवहार
ऐसा सजता हैं गुड़ी का त्यौहार
मौसम ही कर देता नववर्ष का सत्कार
गुड़ी पड़वा की बधाई


नया दिन, नयी सुबह
चलो मनाये एक साथ
है यही गुड़ी का पर्व
दुआ करे सदा रहे हम साथ साथ
हैप्पी गुड़ी पड़वा


मधुर संगीत का साज खिले
हर एक पल खुशियां ही खुशियां मिले
दिया बाती से सजाओ गुड़ी का यह पर्व
ऐसे ही रोशन रहे नव वर्ष
हैप्पी गुड़ी पड़वा


Gudi Padwa Shayari Images

गुड़ी_पड़वा_इमेज_2

Gudi Padwa Shayari in Marathi


वसंताची पहाट घेऊन आली,
नवचैतन्याचा गोडवा,
समृद्धीची गुढी उभारू,
आला चैत्र पाडवा…


सोनेरी पहाट उंच गुढीचा थाट..
आनंदाची उधळण अन सुखांची बरसात…
दिवस सोनेरी
नव्या वर्षाची सुरुवात…
गुडीपाडव्याच्या भरभरून शुभेच्छा!


गुढी उभारू आनंदाची,
समृद्धीची, आरोग्याची,
समाधानाची आणि उत्तुंग यशाची,
नव वर्षाच्या शुभेच्छा…
शुभ गुढीपाडवा!


नक्षीदार काठीवरी रेशमी वस्त्र,
त्याच्यावर चांदीचा लोटा,
उभारुनी मराठी मनाची गुढी,
साजरा करूया हा गुढीपाडवा…
नूतन वर्षाच्या हार्दिक शुभेच्छा!


सोनेरी सूर्याची सोनेरी किरणे,
सोनेरी किरणांचा सोनेरी दिवस..
सोनेरी दिवसाच्या सोनेरी शुभेच्छा सोन्यासारख्या लोकांना..
गुडीपाडव्याच्या हार्दिक शुभेच्छा!


शिखरे उत्कर्षाची सर तुम्ही करत राहावी…!!
कधी वळून पाहता आमची शुभेच्छा स्मरावी…!!
तुमच्या इच्छा आकांक्षाचा वेल गगनाला भिडू दे…!!
आई भवानीच्या कृपेने तुमच्या जीवनात मनासारखे घडू दे…!!
सर्वांना गुडीपाडव्याच्या हार्दिक शुभेच्छा…!!


आशेची पालवी, सुखाचा मोहर,
समृद्धीची गुढी, समाधानाच्या गाठी,
नववर्षाच्या शुभेच्छा,
तुमच्यासाठी…गुडीपाडव्याच्या हार्दिक शुभेच्छा!


गुड़ी_पड़वा_इमेज_3


तिघेजण तुमचा नंबर मागत आहेत,
मी नाही दिला…
पण तुमच्या घरचा पत्ता दिलाय.
ते येत्या गुढीपाडव्याला,
तुमच्या घरी येतील..
त्यांची नावे आहेत,
सुख,
शांती,
समृद्धी…!!!
गुडीपाडव्याच्या शुभेच्छा


Shayari on Gudi Padwa

चारों तरफ हो खुशियाँ ही खुशियाँ मीठी पुरनपोली और गुजियाँ ही गुजियाँ
द्वारे सजती सुंदर रंगोली की सौगात
आसमान में हर तरफ पतंगों की बारात
सभी को शुभ को नव वर्ष हर बार


ऋतू से बदलता हिन्दू साल नये वर्ष की छाती मौसम में बहार
बदलाव दिखता पृकृति में हर तरफ
ऐसे होता हिन्दू नव वर्ष का त्यौहार


मधुर संगीत का साज खिले हर एक पल खुशियाँ ही खुशियाँ मिले
दिया बाती से सजाओ गुड़ी यह का पर्व
ऐसे ही रोशन रहे यह नव वर्ष


पिछली यादे गठरी में बाँधकर करे नये वर्ष का इंतजार
लाये खुशियों की बारात
ऐसी हो गुडी पड़वा से परम्परागत शुरुवात


पिछली यादे गठरी में बांधकर
करे नये वर्ष का इंतज़ार
लाये खुशियों की बरात
ऐसी हो गुड़ी पड़वा से परम्परागत शुरुवात
हैप्पी गुड़ी पड़वा


नौ दुर्गा के आगमन से सजता हैं नव वर्ष
गुड़ी के त्यौहार से खिलता हैं नव वर्ष
कोयल गाती है नववर्ष का मल्हार
संगीतमय सजता प्रकृति का आकार
चैत्र की शुरुवात से होता नव आरंभ
यही हैं हिन्दू नव वर्ष का शुभारम्भ
हैप्पी गुड़ी पड़वा


खुशियां हो ओवरफ्लो
मस्ती कभी न हो लो
धन और शोहरत की हो बौछार
ऐसा आये आपके लिए गुड़ी पड़वा का त्यौहार
गुड़ी पड़वा की हार्दिक शुभकामनाएं


आपको आशीर्वाद मिले गणेश जी से
विद्या मिले सरस्वती से
दौलत मिले लक्ष्मी में
खुशियां मिले रब से
प्यार मिले सब से
पूरी हो हर आपकी इच्छा
हैप्पी गुड़ी पड़वा


चारो तरफ हो खुशियां ही खुशियां
मीठी पूरनपोली और गुजियां ही गुजियां
द्वारे सजती सुंदर रंगोली की सौगात
आसमान में हर तरफ पतंगों की बरात
सभी को शुभ को नव वर्ष हर बार
शुभ हिन्दू नव वर्ष


शाखों पर सजता नये पत्तों का श्रृंगार
मीठे पकवानों की होती चारो तरफ बहार
मीठी बोली से करते, सब एक दूजे का दीदार
चलो मनाये हिन्दू नव वर्ष इस बार
हिन्दू नव वर्ष की शुभकामनायें


गुड़ी_पड़वा_इमेज_4


दोस्तों गुड़ी पड़वा आया
अपने साथ नया साल लाया
इस नए साल में आओ मिले सब गले
और मनाये गुड़ी पड़वा दिल से
हैप्पी गुड़ी पड़वा


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

Copyright © 2018 Hindiguides.in

To Top