General Knowledge

Mahasagar Kitne Hai or Unke Naam in Hindi

Mahasagar Kitne Hai

महासागर खारे पानी का एक विशाल क्षेत्र होता है | आज के समय में यह तो लगभग हर कोई जानता ही है की पृथ्वी का 71 प्रतिशत भाग पानी से घिरा है और 29 प्रतिशत भू-भाग है | पृथ्वी का 36.1 करोड़ की.मी. भाग जल से भरा हुआ है जिसे जलमंडल भी कहा जाता है | महासागर हमारे जलमंडल का मुख्य भाग हैं | महासागरों की कोई निश्चित सीमा नहीं होती जहां तक यह फैले होते हैं वहीं तक इनकी सीमा होती है | विश्व के सात महाद्वीपों को भी महासागर ही आपस में जोड़ते हैं | पूरे विश्व में पांच महासागर हैं |

Mahasagar kitne hai – महासागर कितने है

इस पोस्ट में हम आपके लिए महासागर नाम, 5 mahasagar name, mahasagar ke naam in hindi, mahasagar ke naam batao, total mahasagar kitne hai, mahasagar kitne hote hai, आदि की जानकारी लाए है|

पृथ्वी पर कुल पांच महासागर हैं जिनमे से सबसे पहला है प्रशांत महासागर जो की विश्व का सबसे गहरा और बड़ा महासागर है | यह अमेरिका और एशिया को पृथक करता है | प्रशांत महासागर का क्षेत्रफल अटलांटिक महासागर के दुगने से भी अधिक है | क्षेत्रफल के मामले में दुसरे स्थान पर है अंध और अटलांटिक महासागर जो की यूरोप तथा अफ्रीका महाद्वीपों को बाकी महाद्वीपों से पृथक करता है | तीसरा है आर्कटिक महासागर जो की पृथ्वी के उत्तरीय गोलार्ध में स्थित है जिसे उत्तरीध्रुवीय महासागर भी कहा जाता है | यह पांच महासागरों में से सबसे छोटा और उथला है |

5 mahasagar ke naam

Mahasagar ke naam – महासागर के नाम हिंदी में

पाँचों महासागरों में प्रशांत महासागर,अटलांटिक महासागर,अंटार्टिक महासागर, हिन्द महासागर और उत्तरध्रुवीय महासागर शामिल हैं| पाँचों महासागरों में दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा महासागर है हिन्द महासागर और पूरे विश्व में केवल यही महासागर है जिसका नाम किसी देश(हिंदुस्तान) के नाम पर है | पांचवे स्थान पर है अंटार्कटिक महासागर जो की विश्व में चौथा सबसे बड़ा महासागर है | विश्व के बिलकुल दक्षिण में स्थित होने के कारण इसे दक्षिणी महासागर भी कहा जाता है |

5 mahasagar ke naam

विश्व के पांच महासागरों के नाम हैं –

प्रशांत महासागर(Pacific Ocean) : बाकी चार महासागरों की तुलना में यह सबसे बड़ा और गहरा महासागर है | जैसे की नाम से पता चलता है इस महासागर का जल बाकी महासागरों के मुकाबले थोड़ा शांत है | इस महासागर का क्षेत्रफल 6.4 करोड़ वर्ग मील है जोकि अटलांटिक महासागर का दुगना है |

अंध महासागर(Atlantic Ocean) : क्षेत्रफल और विस्तार के मामले में यह दूसरा सबसे बड़ा महासागर है |इस महासागर का आकार लगभग अंग्रेजी अक्षर 8 के समान है | यह यूरोप तथा अफ्रीका महाद्वीपों को नई दुनिया के महाद्वीपों से अलग करता है |

हिन्द महासागर(Indian Ocean) : यह दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा महासागर है जिसमे पृथ्वी की सतह पर मौजूद पानी का 20 प्रतिशत भाग समाहित है | विश्व में यही एक ऐसा महासागर है जिसका नाम किसी देश के नाम पर है | प्राचीन हिन्दू ग्रंथों में इसे हिन्दू महासागर कहा गया है |

दक्षिणध्रुवीय महासागर(Antarctic Ocean) : दुनिया के बिलकुल दक्षिण में स्थित होने के कारण इस दक्षिणी महासागर भी कहा जाता है | यह महासागर सम्पूर्ण अंटार्टिका महाद्वीप को घेरे हुए है | पांच महासागरों में से यह चौथा सबसे बड़ा महासागर है |

उत्तरध्रुवीय महासागर(Arctic Ocean) : आर्कटिक महासागर बाकी चार महासागरों की तुलना में सबसे छोटा और उथला है | इस महासागर का तापमान और लवडता मौसम के साथ-साथ बदलती रहती है क्यूंकि इसकी बर्फ पिघलती और जमती रहती है |

विश्व के यह पांच महासागर हमारे लिए बहुत मूलयवान हैं लेकिन आज के समय में लोग इनका और इनमे रहने वाले जीवों का ख्याल न करते हुए खिन न खिन इन्हे दूषित कर रहे हैं | हमारा जीवन भी कहीं न कहीं इन्ही पर निर्भर करता है क्यूनि यही हमारे लिए जल का एक मात्र साधन हैं इसलिए हम इस बात बार ध्यान देना चाहिए |

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

Copyright © 2018 Hindiguides.in

To Top